Computer क्या है और Computer कितने प्रकार के होते हैं?

Computer क्या है और Computer कितने प्रकार के होते हैं: नमस्कार दोस्तों आज के हमारे इस पोस्ट में आपका स्वागत है। आज हम आपको Computer से जुड़े कुछ बेसिक जानकारी बताने वाले हैं जैसे कि Computer क्या है और इसके कितने प्रकार हैं और इसकी विशेषताएं क्या है आदि। क्योंकि दोस्तों बहुत सारे लोगो को इसके विषय में ज्यादा जानकारी प्राप्त नहीं होता है। तो दोस्तो आपको बता दें कि Computer एक ऐसा Electronic Device होता है जो Computer Users के द्वारा दिए गए Data को Input के रूप में लेता है।

फिर उसे Process करके उस Processed किए हुए data को Output के रूप में सभी Users को दिखाता है। दोस्तो ऐसे बहुत सारे लोग होंगे जिन्हें Computer क्या है और इसका Full Form क्या है ये नहीं पता होता है इसीलिए आज मैं
Computer से जुड़े कुछ Basic जानकारी आपको बताने वाला हूं। जिसके सहायता से आप सारी जानकारी बहुत ही आसानी से प्राप्त कर लोगे। दोस्तो आज के समय में Computer के माध्यम से घर बैठे बहुत सारे कार्य आसानी से किए जा रहे हैं।

जैसे- Online Form भरना, Admissions और भी बहुत कार्यों को आप घर बैठे Computer से ही कर सकते हो। दोस्तो पहले के जवाने में Computer ना होने के वजह से सभी लोग कंकड़ या फिर पत्थरों के सहायता से गिनती किया करते थे। लेकिन आज के समय में Computer हर किसी की जरूरत बन गई है। दोस्तो अगर आप लोगो को Computer के बारे में ज्यादा जानकारी प्राप्त नहीं है तो परेशान होने की जरूरत नहीं है क्योंकि आप हमारे इस पोस्ट के माध्यम से बहुत ही आसानी से Computer के विषय में सिख जाओगे। तो चलिए जानते हैं!

Computer क्या है

Computer क्या है और कितने प्रकार का होता है?
Computer क्या है और Computer कितने प्रकार का होता है?

दोस्तों Computer एक ऐसा मशीन है जो अपने CPU या Processor के द्वारा हमारे दिए गए सभी Input का पालन करता है और फिर इसके बाद प्रोग्राम के परिणाम को Output के रूप में किसी भी Printer या फिर Screen पर भेज दिया जाता है और उसे हम देख तथा पढ़ भी सकते हैं। दोस्तों Computer से किसी भी कार्य को करवाने के लिए हमें उसे निर्देश देना होता हैं और इसके बाद उन निर्देशों को पूरा करने के लिए Computer को Input Data की आवश्यकता पड़ती है। दोस्तों Computer को हम Input Data Keyboard, माउस आदि से देते हैं।

दोस्तों Computer का जितना भी Parts किसी भी Process को करने के लिए कार्य करता है उसे हम Processor कहते हैं और Processor का कार्य भी यही होता है कि हमारे दिए गए Task को समझकर बिना किसी गलती का पूरा करना। दोस्तो Processor हमारे दिए गए सभी निर्देश को पूरा करने के लिए वो Computer के Parts का मदद लेता है और फिर किसी भी प्रोग्राम को पूरा होने के बाद हम उसे Printer या फिर स्क्रीन के सहायता से हम अपने Output को देख तथा पढ़ सकते हैं।

दोस्तो आज के समय में Computer हमारे जीवन में एक अहम भूमिका निभाता है और अगर हम पढ़ाई से लेकर Business की बात करें तो हर क्षेत्र अब पूरी तरह से Computer पे ही निर्भर हो चूका है। दोस्तो आज के इस पोस्ट में हम आपको Computer से जुड़ी कुछ ऐसी जानकारी बताने वाला हूं जो आप लोगो में से बहुत सारे लोगों को नहीं पता होगा। तो दोस्तो चलिए जानते हैं!

Computer का Full Form क्या है

दोस्तो आपको बता दें कि Computer का Full Form “Commonly Operating Machine Particularly Used in Technological and Educational Research” होता है।

  • C – Common (आम तौर पर)
  • O – Operating (संचालित)
  • M – Machine (मशीन)
  • P – Purposely (विशेष रूप से)
  • U – Used for (प्रयुक्त)
  • T – Technological (तकनीकी)
  • E – Educational (शिक्षात्मक)
  • R – Research (अनुसंधान)

Computer की परिभाषा क्या है

दोस्तों Computer एक Electronic Device होता है और इसका Use Data को Store, Retrieve एवं Process करने में किया जाता है।

Computer संबंधी महत्वपूर्ण जानकारियां

दोस्तो Computer में आपको किसी भी कार्य को करने के लिए विभिन्न उपकरणों का भी आवश्यकता पड़ता है और जिसे सभी लोग Hardware और Software के नाम से जानते है। तो दोस्तो उसके लिए आज आपको नीचे Computer के कुछ उपकरणों के बारे में सारी जानकारी दिए गए हैं। तो दोस्तो चलिए जानते हैं!

RAM

दोस्तों RAM का Full Name “Random Access Memory” होता है और RAM आपके Computer और Laptop दोनों ही Devices में उपलब्ध होता है। दोस्तों RAM का Use CPU द्वारा Process किये जा रहे किसी भी तरह के Data को स्टोर करने के लिए किए जाते हैं। दोस्तों RAM दो प्रकार का होता है – पहला DRAM ( Dynamic Random Access Memory) और दूसरा SRAM (Static Random Access Memory) होता है।

CPU

आपको बता दें कि CPU का Full Name ‘Central Processing Unit’ होता है और ये Computer का एक छोटा सा Hardware होता है जो Computer प्रोग्राम के सारे निर्देशों को Process करने का कार्य करता है। दोस्तों आपको बता दें कि CPU में ही Computer के सभी Data को Store किए जाते हैं और CPU को ही Computer Processor या फिर Microprocessor माना जाता है।

Monitor

दोस्तो ये एक Output Device होता है और ये दिखने में बिल्कुल Television के जैसा दिखता है। दोस्तो ये भी Computer का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। दोस्तो Monitor का कार्य ये है कि CPU के अंदर चल रहे सभी प्रक्रियाओं को Soft Copy के रूप में अपने स्क्रीन पे दिखाता है।

Hard Drive

दोस्तो आपको बता दें कि ये एक Secondary Storage Device होता है और इसी के सहायता से हम अपने Computer में Documents, Photos, और Videos को भी स्टोर करके रख सकते है।

Motherboard

दोस्तों आपको बता दें कि Motherboard Computer का एक Printed Circuit board होता है और दोस्तों ये बिल्कुल Plastic Plate के जैसा भी होता है और इसके ही मदद से Hardware Parts जैसे कि – Hard Drive, CPU, RAM, और Graphic Card को भी Connect किये जाते है। दोस्तो Motherboard Computer का एक बेहतरीन पार्ट है जो Computer के सभी Parts के साथ में जुड़ा रहता है।

Mouse

दोस्तो ये भी एक Input Device है और इसे हम Pointing Device भी कह सकते हैं। दोस्तो Mouse का Use Computer को निर्देश देने के लिए किए जाते है।

Keyboard

दोस्तों Keyboard एक Input Device होता है और इसका Use हम लोग Computer को निर्देश देने के लिए करते है।

Printer

दोस्तो आपको बता दें कि ये Printer एक Output Device है और ये Computer के द्वारा दिए गए सभी जानकारी को कागज पर Print करने का कार्य करता है।

Speakers

दोस्तों Speaker एक Output Device होता है और इसका Use Computer से Connect कर ध्वनि सुनने के लिए किए जाते है।

दोस्तों अब तो आप लोगो को Basic Computer क्या है इसके बारे में सारी जानकारी प्राप्त हो गई होगी। तो दोस्तो अब हम लोग ये जानेंगे कि Computer कितने प्रकार का होता है। आइए जानते हैं!

Computer कितने प्रकार का होता है?

तो दोस्तों अब हम आप लोगो को ये बताने वाले हैं कि Computer के कितने प्रकार होते हैं। तो दोस्तो चलिए अब जानते हैं! Computer मुख्य रूप से चार प्रकार के होते है

Desktop Computer

आजकल के समय में सभी मशीनों के आकार में सबसे ज्यादा छोटी और अधिक कार्य करने वाली हो गई है। और इन सभी मशीनों की गिनती में Desktop Computer भी एक है। दोस्तो Computer आजकल हर क्षेत्र में काफी ज्यादा इस्तेमाल किया जा रहा है छोटे से छोटे दफ्तरों से लेकर बड़ी सी बड़ी Companiyon में भी Computer का इस्तेमाल किया जाता है। जिसको हम लोग PC के नाम से जानते हैं।

Laptop

दोस्तों आज का Laptop और Computer का इस्तेमाल काफी ज्यादा बढ़ गया है। Desktop के अपेक्षा Computer ज्यादा Portable होता है और इसको आप लोग काफी ज्यादा आसानी से अपने साथ कहीं भी ले जा सकते हो।

Tablet

दोस्तो आजकल के समय में तकनीकी विकास बड़े स्तर पर काफी अधिक हुआ है। Tablet Laptop से भी कहीं ज्यादा Portable होता है और Handheld भी होता है।

Server

दोस्तों हम आप लोगों को बता दे कि Server Network में प्रयोग किए जाने वाला ऐसा तकनीकी है जो कि उससे जुड़े हुए काफी सारे Device और Program को Clients करता है और इन्हें विभिन्न सेवाएं भी प्रदान करता है और Server सभी Network के Research को Networking के द्वारा एक दूसरे से Connect करने का भी कार्य करता है।

यह एक तरह से देखा जाए तो Service Provider भी होता है जिसका काम अपने Clients के आवश्यकता अनुसार Data और Information को उपलब्ध कराना होता है अर्थात Serve करना होता है।

Computer का इतिहास क्या है?

दोस्तों Computer वर्तमान समय की एक ऐसी अद्भुत Technology है जिसके आने के बाद सब कुछ पूरी तरह से बदल गया है क्योंकि आज कल लोग Computer की मदद से घर बैठे बैठे बहुत सारे काम आसानी से कर सकते है लेकिन दोस्तों क्या आप लोगों को Computer के इतिहास के बारे में बताएं और अगर दोस्तों आप लोग जानना चाहते हैं कि Computer का इतिहास क्या है तो मैं आप लोगों को Computer Generation की पूरी जानकारी हिंदी में देने वाला हूं

1. पहली पीढ़ी – (1940-1956)

Computer के पहले पीढ़ी का शुरुआत J.Presper Eckent और John Mouchly के द्वारा सन् 1940 में ENIAC नामक Electronic Numerical Integrator and Computer Computer के निर्माण के ही दौरान की गई थी और प्रथम पीढ़ी के Computer ऐसे Computer थे। जिसमें Magnetic Drums और Vaccum Tubes का भी प्रयोग किया गया था और इन Computer’s का आकार भी काफी ज्यादा बड़ा होता था।

जिसकी वजह से यह काफी Heat Generate किया करता था और इसका आकार बड़ा होने के वजह से Computer एक पूरे कमरे को घेर लिया करता था और दोस्तों प्रथम पीढ़ी के Computer के नाम कुछ इस प्रकार के होते थे – EDVAC ( Electronic Discrete Variable automatic Computer), ENIAC Electronic Numerical Integrator and Computer),UNIVAC (Universal Automatic Computer1)

2. दूसरी पीढ़ी – (1956-1963)

दोस्तों मैं आप लोगों को बता दें कि Computer के दूसरी पीढ़ी का शुरुआत सन् 1956 में किया गया था। और दोस्तो इस पीढ़ी के Computer में Vaccum Tubes के जगह पर Transistors का प्रयोग किया गया है। जिसका निर्माण सन् 1947 में Williom Shockly के द्वारा किया गया और दोस्तों मैं आप लोगों को बता दे कि दूसरी पीढ़ी के Computer पहली पीढ़ी के Computer के मुकाबले काफी ज्यादा अच्छे थे।

क्योंकि दोस्तो इस Computer में काम करने की क्षमता काफी ज्यादा थी और इसके साथ ही साथ ये काफी कम जगह भी लेता है।दोस्तों दूसरी पीढ़ी के Computer भी पहली पीढ़ी के तरह ही Input देने के लिए Punch Cards का ही प्रयोग करते है और इस पीढ़ी में भी FORTAN और COBOL जैसी High Level और Programming language को इस्तेमाल करने के लिए देता है। दोस्तो दूसरी पीढ़ी के Computer के नाम कुछ इस प्रकार से है– Honeywell 400, IBM7094, CDC1604, UNIVAC1108

3. तीसरी पीढ़ी – (1964-1971)

Computer के तीसरी पीढ़ी का शुरुआत सन् 1964 में हुआ था और दोस्तों इस पीढ़ी में Transistor के कारण Integrated Circuit का प्रयोग किया जाता है और इसी कारण से Computer के काम करने का Speed काफी अधिक हद तक बढ़ भी गई है और दोस्तों यह सारे ऐसे Computer थे। जिसका वजन और इसका आकर पहली और दूसरी पीढ़ी के मुकाबले बहुत ज्यादा कम भी था।

दोस्तों वर्तमान समय में हम लोग जिस Monitor और Keyboards का इस्तेमाल कर रहे हैं उसको तीसरी पीढ़ी के दौरान ही Launch किया गया है। दोस्तों तीसरी पीढ़ी के कुछ मुख्य Computer के नाम इस प्रकार हैं IBM 360, TDC-316, PDP आदि है।

4. चौथी पीढ़ी – (1971-1985)

Computer के चौथी पीढ़ी का शुरुआत सन् 1971 में Microprocessor के ही इस्तेमाल के साथ ही किया गया था। और दोस्तो इसके इस्तेमाल से Computer का काम करने का क्षमता और अधिक बढ़ गया और इसी कारण Computer की मदद से बड़ी से बड़ी Calculation को काफी कम समय में और बहुत ही आसानी से किया जाने लगा और यह Computer बहुत ही ज्यादा सस्ते भी होते थे और इसी वजह से लोगों द्वारा इसे काफी अधिक पसंद भी किया गया था।

दोस्तों इस Computer में C, C++, D Base जैसी high Level programming language का भी इस्तेमाल किए जाने लगे और दोस्तों चौथी पीढ़ी के मुख्य Computer के कुछ उदाहरण इस प्रकार हैं – STAR 1000, DEC 10, IBM 4341, CRAY-1, PDP 11

5. पाँचवी पीढ़ी – (1985 से अब तक)

दोस्तों Computer के पांचवी पीढ़ी का शुरुआत सन् 1985 में हुआ था और दोस्तों पांचवी पीढ़ी का Computer वर्तमान समय में उपयोग किए जाने वाले Computer है जो कि Artificial Intelligence पर आधारित है और धीरे-धीरे करके यह Computer Laptop और Tablet में बदल दिया गया और तो और दोस्तों Technology के विकसित होने पर Computer आप एक घड़ी के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है।

क्या सीखा (Conclusion)

दोस्तों आज के इस पोस्ट में हम लोगों ने Computer क्या है और Computer कितने प्रकार के होते हैं? इसके बारे में जाना! दोस्तो मैं उम्मीद करता हूं कि आप लोगो को मेरा यह आर्टिकल जरूर पसंद आया होगा और Computer क्या है? इसके बारे में आपको दुबारा से Internet पर Search नहीं करना होगा।

दोस्तो अगर आप लोगो को मेरा ये पोस्ट पसंद आया हो तो आप इसे अपने दोस्तो के साथ भी शेयर करें और अगर इस आर्टिकल से संबंधित कोई भी सवाल है तो आप हमें Comment Box में जरूर बताएं। धन्यवाद!

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.