Blogging क्या है और Blogging कैसे करें – पूरी जानकारी

Blogging क्या है और Blogging कैसे करें

दोस्तों जैसा कि आप सभी को पता ही है। कि वर्तमान समय में डिजिटल का दौर चल रहा है, और  डिजिटल दौर के अंदर हर व्यक्ति अपने जीवन में ऑनलाइन माध्यम को अपनाना चाहता है। तो इसी प्रकार जब पुराने जमाने में लोग अपने ज्ञान या अपने टैलेंट को डायरी के माध्यम से लिखते थे, तो उसी ज्ञान और टैलेंट को वर्तमान समय में इंटरनेट पर लिखा जाता है। 

दोस्तों आजकल के समय में आप देखते होंगे। जब भी आप गूगल पर कोई जानकारी सर्च करते हैं। तो उस जानकारी से जुड़े आपको कई सारे आर्टिकल मिल जाते हैं। तो वह आर्टिकल कोई ना कोई व्यक्ति इंटरनेट पर शेयर करता है, जो आपको गूगल के जरिए मिलते हैं। 

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल में ब्लॉगिंग क्या है। और ब्लॉकिंग कैसे की जाती है, उसके बारे में विस्तार से बताएंगे। इसलिए अगर आप भी ब्लॉगिंग के बारे में विस्तार से जानना चाहते हैं, तो इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें। 

Blogging क्या है 

दोस्तों सादरण भाषा में कहा जाए, तो जो जानकारी आप इंटरनेट पर सबकी मदद करने के लिए अपलोड करते हैं। तो उस जानकारी को अपलोड करने की प्रक्रिया को ही ब्लॉगिंग कहते हैं। दोस्तों जैसा कि आपको पता ही है, कि पहले के समय में जो भी जानकारी प्राप्त करनी होती थी। तो हम मार्केट से बुक या डायरी खरीद कर लाते थे, और उन किताबों के माध्यम से हम उस जानकारी को प्राप्त करते थे। 

और जो बुक और किताबें हम मार्केट से खरीदते थे। उन किताबों को भी कोई ना कोई लिखता था। लेकिन अब टेक्नोलॉजी का दौर चल रहा है, और इस टेक्नोलॉजी के दौर में हर चीज ऑनलाइन होती जा रही है। तो इसी बीच यह किताब और डायरिया की प्रक्रिया भी ऑनलाइन हो गई है। जिसे हम ब्लॉगिंग कहते हैं। 

दोस्तों यदि ब्लॉकिंग की बात आती है। तो उसमें आप अपने ज्ञान और टैलेंट को इंटरनेट पर शेयर करके लोगों की मदद भी कर सकते हैं। साथ में आप उनके बदले ऑनलाइन माध्यम से पैसे भी कमा सकते हैं। 

Blogging कैसे करते हैं

दोस्तों ब्लॉगिंग करने के लिए सबसे पहले आपको ब्लॉगिंग के बारे में कुछ सामान्य जानकारी होना बहुत जरूरी है। जब तक आप को ब्लॉगिंग के बारे में जानकारी नहीं होगी। तो आप ब्लॉगिंग नहीं कर पाएंगे। 

ब्लॉगिंग करने के लिए सबसे पहले आपके पास एक ब्लॉग या वेबसाइट होना बहुत जरूरी है। ब्लॉग या वेबसाइट के अलावा ब्लॉगिंग करना नामुमकिन होता है।क्योंकि जब आप कोई भी जानकारी को इंटरनेट पर शेयर करते हैं। उसके बाद लोग आपके ब्लॉग या वेबसाइट पर आकर उस जानकारी को पढ़ते हैं, और इस प्रक्रिया को ही ब्लॉगिंग कहा जाता है। 

दोस्तों जैसा कि मैंने अभी आपको बताया है। कि ब्लॉगिंग करने के लिए आपको ब्लॉग या वेबसाइट की जरूरत होती है। तो सबसे पहले यह जान लेते हैं, कि ब्लॉग या वेबसाइट को कैसे बनाया जाता है। 

1. वेबसाइट कैसे बनाई जाती है

दोस्तों वेबसाइट एक ऐसा प्लेटफार्म होता है, जो कि विश्व भर में चलता है, और विश्व भर के किसी भी देश से लोग आपकी वेबसाइट को ओपन कर सकते हैं। तो अब जान लेते हैं। वेबसाइट को कैसे बनाया जाता है इसके बारे में, 

दोस्तों व्यथित बनाने के लिए सबसे पहले आपको वेबसाइट का एक नाम रखना होता है। और उस नाम को डोमेन नेम कहा जाता है। दोस्तों जैसा कि आप जब भी इंटरनेट पर कोई जानकारी सर्च करते हैं। तो वह जानकारी किसी वेबसाइट पर उपलब्ध होती है। तो उसे उसी का नाम भी आपको वहां देखने को मिलता है। इसी प्रकार जब आप अपनी खुद की वेबसाइट बनाते हैं। तो आपको भी अपनी वेबसाइट का एक नाम रजिस्टर करना पड़ता है। 

दोस्तों अपनी वेबसाइट के लिए नाम रजिस्टर करवाने के लिए इंटरनेट पर कई कंपनियां उपलब्ध है, जो कि डोमेन नेम रजिस्ट्रेशन का काम करती है। तो आप उन कंपनियों के माध्यम से अपनी वेबसाइट के लिए एक अच्छा सा डोमेन नेम रजिस्टर करवा ले। 

जब आप अपनी वेबसाइट के लिए डोमेन नेम रजिस्टर करवा लेते हैं, तो उसके बाद आपको अपनी वेबसाइट को इंटरनेट पर होस्ट करने के लिए कुछ स्टोरेज की जरूरत होती है। जैसे आप मार्केट में कोई दुकान खोलते हैं। तो उस दुकान के सामान को स्टोर करने के लिए आपको एक सजा होती है। उसी प्रकार इंटरनेट पर वेबसाइट बनाने के लिए जब आप वेबसाइट पर जो भी जानकारी को डालेंगे। उस जानकारी को स्टार्ट करने के लिए एक ऑनलाइन स्टोरेज की जरूरत होती है। उस कॉलिंग सुरेश को होस्टिंग कहा जाता है। 

दोस्तों जैसे तो इंटरनेट पर हजारों कंपनियां उपलब्ध है, जो होस्टिंग प्रोवाइडर करवाती है। लेकिन जब आप अपनी एक वेबसाइट शुरू करते हैं, तो एक कोई विश्वास जनक होस्टिंग कंपनी से पोस्टिंग को खरीद ले। 

दोस्तों जब आप वूमेन का रजिस्ट्रेशन करवा लेते हैं, उसके बाद आपको पोस्टिंग लेनी होती है। जब आप डोमेन और होस्टिंग दोनों खरीद लेते हैं। उसके बाद आपको अपनी वेबसाइट का डेवलपमेंट करना पड़ता है। ताकि जब भी कोई यूजर आपकी वेबसाइट पर आए, तो उसको आपकी वेबसाइट का एंड फेस पसंद आए। 

2.Blog पर आर्टिकल कैसे लिखते हैं

दोस्तों जब आप अपनी वेबसाइट को पूरी तरह से बना लेते हैं। तो उसके बाद जो काम आता है। वह आर्टिकल लिखने का आता है। दोस्तों यह तो आपको पता ही होगा कि जब हम पर सिर पर आते हैं। तो सिर्फ सिर पर कोई ना कोई जानकारी अपडेट करनी पड़ती है, और वेबसाइट पर जो जानकारी अपडेट की जाती है, वह टैक्स के रूप में होती है। और उस जानकारी को लिखने के लिए हमें आर्टिकल्स लिखने पड़ते हैं। 

दोस्तों जब आप आर्टिकल के माध्यम से अपनी वेबसाइट पर नियमित रूप से जानकारी को अपडेट करते हैं। तो यूजर्स को आपकी वेबसाइट अच्छी लगने लगती है, और वह आपकी वेबसाइट पर रोजाना आकर जानकारी को पढ़ना पसंद करने लगता है। 

3.Blog का SEO कैसे करते हैं

दोस्तों ब्लॉगिंग करने के लिए वेबसाइट बनाना और आर्टिकल लिखना ही काफी नहीं है।जब आप सही तरीके से ब्लॉगिंग करना चाहते हैं। तो आपको SEO के बारे में भी जानकारी होनी चाहिए SEO की फुल फॉर्म सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन होता है, और जब आप अपनी वेबसाइट बनाते हैं। तो उस वेबसाइट को आपको किसी भी सर्च इंजन में सबमिट करना होता है। और साथ ही अपनी वेबसाइट को सर्च इंजन में रैंक करवाने के लिए उस वेबसाइट का सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन भी करना होता है। 

इसलिए दोस्तों में ब्लॉगिंग करते समय आपको अपनी वेबसाइट पर डाले गए आर्टिकल्स और वेबसाइट का सही तरीके से सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन करना चाहिए। ताकि आपके आर्टिकल्स और आपकी वेबसाइट गूगल, याहू या बिंग जैसे बड़े सर्च इंजन पर रैंक करें, और जब आपकी वेबसाइट रैंक करेगी। तो आपकी वेबसाइट पर यूजर्स भी आएंगे। 

Conclusion 

 दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल में ब्लॉगिंग क्या है और ब्लॉगिंग कैसे की जाती है। उसके बारे में विस्तार से जानकारी दी है, तो अगर आप भी ब्लॉगिंग करना चाहते हैं। तो ऊपर दिए गए इन सभी स्टेप को जरूर फॉलो करें।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.